भगवान श्री स्वामिनारायण

दोलत छोड़ी दुनिया छोड़ी सारा खज़ाना छोड़ दिया,
स्वामीनारायण जी के इश्क मे दीवानों ने राज घराना छोड़ दिया,
दरवाज़े पे जब लिखा हमने नाम हमारे स्वामीनारायण का,
मुसीबत ने दरवाज़े पे आना छोड़ दिया…!

सपने…

सपने उन्ही के पूरे होते है,
जिनके सपनो मे जान होती है.
पँखो से कुछ नही होता,
ऐ मेरे दोस्त!! होसलो से ही तो उड़ान होती है.
dty

याद आएगी…

भूलना चाहो तो भी याद हमारी आएगी,
दिल की गहराई मे हमारी तस्वीर बस जाएगी.
ढूढ़ने चले हो हमसे बेहतर दोस्त,
तलाश हमसे शुरू होकर हम पे ही ख़त्म हो जाएगी.

friends-running-pan_14938.jpg

ऐ हुस्न वालो…

चुपके चुपके पहले वो ज़िन्दगी में आते हैं;
मीठी मीठी बातों से दिल में उतर जाते हैं;,
बच के रहना इन हुस्नवालों से यारो;
इन की आग में कई आशिक जल जाते हैं।
alia-july12